स्मैक तस्कर बॉयफ्रेंड-गर्लफ्रेंड: ग्वालियर में 30 लाख की स्मैक के साथ पकड़े गए, अच्छी कमाई के लालच में करने लगे नशे का कारोबार…

ग्वालियर/ ग्वालियर में स्मैक की तस्करी करने वाले प्रेमी जोड़े को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। इनके पास से 300 ग्राम स्मैक मिली है। कीमत 30 लाख रुपए बताई जा रही है। इसे दोनों इटावा से लाए थे। पकड़े गए गुंडे पर लूट समेत अन्य अपराध के 18 केस दर्ज हैं। स्मैक के धंधे में अच्छी कमाई को देखकर वह लंबे समय से नशे के कारोबार से जुड़ गया। पहले महिलाओं से चेन लूटा करता था। पकड़ी गई महिला उसके दोस्त की पत्नी है। दोस्त अभी जेल में है।

SP अमित सांघी के मुताबिक, सूचना मिली थी कि हजीरा इलाके का गुंडा महिला मित्र के साथ स्मैक की खेप लेकर शहर में आने वाला है। SP ने ASP क्राइम राजेश डंडौतिया को गिरफ्तारी के निर्देश दिए। उन्होंने पुलिस टीम को अलर्ट किया। इसके बाद क्राइम ब्रांच TI दामोदर गुप्ता, हजीरा TI मनीष धाकड़ ने टीम के साथ यादव धर्मकांटा पुल के पास घेराबंदी कर दी। पुलिस जवान और अफसर अलग-अलग वाहनों में छुपकर बैठ गए। कुछ देर बाद एक बाइक पर सवार महिला और पुरुष आते दिखे।

जैसे ही, पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया, तो उन्होंने दूर से ही पुलिस को देख लिया। वह बाइक मोड़कर भागने लगे, लेकिन पुलिस ने पीछा कर उन्हें पकड़ लिया। आरोपी रजुआ राठौर निवासी हजीरा है। उसके पास से 280 ग्राम स्मैक मिली। इसके अलावा 3500 रुपए भी मिले। उसकी महिला मित्र की पहचान मोहिनी तोमर निवासी हजीरा के रूप में हुई है। महिला से 20 ग्राम स्मैक मिली है।

शातिर चेन लुटेरा भी है रजुआ
गिरफ्त में आया रजुआ हजीरा इलाके का हिस्ट्रीशीटर है। वह शातिर चेन लुटेरा भी है। करीब आठ-दस साल पहले महाराजपुरा पुलिस ने उसे पकड़ा था। तब महिलाओं से लूटी गई करीब आधा दर्जन चेन बरामद हुई थी। यह साथी खबड़ा के साथ मिलकर वारदात करता था। उस पर लूट, मारपीट सहित अन्य मामलों में 18 केस दर्ज हैं।

इटावा से लेकर आया था स्मैक
पूछताछ में रजुआ ने बताया कि वह पहली बार स्मैक लेकर आया है। इटावा से एक व्यक्ति से स्मैक ली थी, हालांकि अभी तक जो तस्कर पकड़े गए, उनका कहना था कि मैनपुरी से लेकर आते थे, लेकिन कई मैनपुुरी से इटावा तक स्मैक देने भी आ जाते थे। फिलहाल, पुलिस उससे और पूछताछ कर रही है।

Print Friendly, PDF & Email

election result

election resultCorona

Translate »