भोपाल की सड़कों पर जरा संभलकर: सुभाषनगर ब्रिज से ट्रैफिक शुरू नहीं होने से सर्विस लेन ही सहारा, इसमें भी आधी सड़क खुदी है; 500 मीटर हिस्से से गुजरना चुनौती…

सुभाषनगर आरओबी की सर्विस लेन खुदी पड़ी है। यहां पानी भर जाता है। - Dainik Bhaskar

सुभाषनगर आरओबी की सर्विस लेन खुदी पड़ी है। यहां पानी भर जाता है।

भोपाल/ राजधानी में 40 करोड़ रुपए से बने सुभाषनगर रेलवे ओवरब्रिज से ट्रैफिक शुरू नहीं हो सका है। इस कारण सर्विस लेन ही राहगीरों का सहारा है, लेकिन इसकी आधी सड़क गैस लाइन बिछाने के लिए खोद दी गई है। इस कारण करीब 500 मीटर लंबे हिस्से से गुजरना खतरे से खाली नहीं है। मेट्रो की गर्डर लॉन्चिंग होने के कारण गर्वमेंट प्रेस से सुभाषनगर रेलवे फाटक तक का ट्रैफिक का बोझ भी सर्विस लेन पर आ गया है। अब यहां से गुजरना मुश्किलभरा हो गया है।

दरअसल, होशंगाबाद रोड, सुभाषनगर आदि क्षेत्रों में गैस लाइन का काम करने के लिए सड़क की खुदाई की गई है, लेकिन कई क्षेत्रों में सड़क को ठीक नहीं किया गया। सबसे खस्ताहाल होशंगाबाद रोड व सुभाषनगर क्षेत्र में है। सुभाषनगर आरओबी की सर्विस लेन पर 5 फीट तक खुदाई की गई है। इससे सर्विस लेन की चौड़ाई और कम हो गई है। दूसरी ओर, इस लेन पर ट्रैफिक का लोड बना हुआ है। कार, बाइक समेत सिटी बसें भी चल रही हैं। गड‌्ढों और कीचड़ होने से बाइक सवार गिरकर चोटिल हो रहे हैं।

बारिश होते ही फैल जाता है कीचड़, फिसलने लगती हैं गाड़ियां

सुभाषनगर आरओबी के नीचे इस तरह फैला हुआ है कीचड़।

सुभाषनगर आरओबी के नीचे इस तरह फैला हुआ है कीचड़।

सुभाषनगर मार्केट से लेकर प्रभात चौराहे तक लाइन बिछाने के लिए खुदाई का काम चल रहा है। लाइन बिछाने के बाद जगह को पुन: समतल नहीं किया जा रहा है। इस कारण बारिश का पानी गड्‌ढों में भर गया है। वहीं कीचड़ भी हो गया है, जिससे गाड़ियां फिसल रही हैं। राहगीर चोटिल हो रहे हैं।

इस कारण भी बढ़ा दवाब

सुभाषनगर आरओबी की सर्विस लेन पर ट्रैफिक का दवाब बढ़ गया है।

सुभाषनगर आरओबी की सर्विस लेन पर ट्रैफिक का दवाब बढ़ गया है।

इन दिनों सुभाषनगर रेलवे फाटक के पास गर्डर की लॉन्चिंग की जा रही है। इसके अलावा गवर्मेंट प्रेस क्षेत्र में पिलर का निर्माण किया जाना है। इस दौरान भारी वाहन जैसे मिनी बसें, ट्रैक्टर-ट्रॉली, ट्रॉले आदि के आवागमन को रोक दिया गया है। अब बसें चेतक ब्रिज से सुभाषनगर की ओर आ-जा रही हैं। इससे सर्विस लेन पर ट्रैफिक का दबाव बढ़ गया है। अन्य वाहन भी इसी रूट से गुजर रहे हैं।

Print Friendly, PDF & Email

election result

election resultCorona

Translate »