छत्तीसगढ़ में बड़ा हादसा : एक ही परिवार की 5 महिलाओं की मौत, तेज रफ्तार वैन पेड़ से जा टकराई; रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में शामिल होकर वापस लौट रहा था परिवार…

गरियाबंद के मालगांव की रहने वाली एक ही परिवार की महिलाएं इस हादसे में बच न सकीं।

गरियाबंद/ गरियाबंद के नेशनल हाइवे पर शनिवार की देर रात सड़क हादसा हो गया। तेज रफ्तार वैन सड़क के किनारे पेड़ से टकरा गई। टक्कर की इतने जबरदस्त थी कि मौके पर 5 महिलाओं की मौत हो गई। ये सभी एक ही परिवार की थीं। वैन में 12 लोग सवार थे। ड्राइवर समेत अन्य लोगों को भी चोटें आई हैं। राजिम में रात भर चले इलाज के बाद इनमें घायलों में से 5 को अब रायपुर रेफर किया गया है। पुलिस इस घटना की जांच कर रही है।

ड्राइवर इस तरह से फंसा हुआ था।

ड्राइवर इस तरह से फंसा हुआ था।

गए थे मातम में शामिल होने अब इनके गांव में मातम
हादसे का शिकार हुआ परिवार गरियाबंद के मालगांव का रहने वाला है। एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर ने बताया कि ये सभी वैन में बैठकर रायपुर गए थे। इनके एक रिश्तेदार की मौत होने की वजह से सभी रायपुर के अभनपुर पहुंचे थे। शनिवार रात को लौटते वक्त कोपरा मोड़ के पास वेन नीलगिरी के पेड़ से जा टकराई। इस हादसे में जमौती (40) , दुखिया (65), दुकाला (65), केन बाई (65) और परवल बाई निषाद (55) की मौत हो गई।

हादसे के बाद गाड़ी की हालत।

हादसे के बाद गाड़ी की हालत।

कुछ देर तक गाड़ी यूं ही पेड़ के पास फंसी रही। घटना की जानकारी पांडुका थाने में दी गई। हाइवे की पुलिस पेट्रोलिंग टीम मौके पर पहुंची। फौरन घायलों और मृतकों को गाड़ी से बाहर निकाला गया। सबसे पहले इन्हें राजिम अस्पताल ले जाया गया था। हादसे में गाड़ी सामने की तरफ से पेड़ से टकराई मगर ड्राइवर को कुछ नहीं हुआ वो घायल है। पीछे बैठी महिलाओं के सिर में गंभीर चोटें आई और वहीं उनकी मौत हो गई। कार में एक 13 साल की बच्ची भी थी इसे मामूली चोटें आई हैं। घायलों में ठाकुर राम (30), अंकित (15), दुलारी बाई (62), देवला बाई (60), देवतीन (50), फुलबाई (60) और टामिन निषाद (13) घायल हैं।

पुलिस के पहुंचने के बाद लोगों को निकाला गया।

पुलिस के पहुंचने के बाद लोगों को निकाला गया।

Print Friendly, PDF & Email

election result

election resultCorona

Translate »