चोरी के आरोप में पुलिस की बेरहमी: 10 साल का लड़का बोला- पुलिस वाले अंकल ने बहुत मारा; कान के पर्दे फट गए और खून निकलने लगा…

मासूम भोला मारपीट के बाद बिस्तर पर पड़ा।

  • बेलखेड़ा थाने की पुलिस का मामला, पीड़ित परिवार सदमे में
  • बच्चे को लेकर आज एसपी की जनसुनवाई में शिकायत करने जाएगा परिवार

जबलपुर/ बेलखेड़ा पुलिस का बेरहम चेहरा सामने आया है। मोबाइल चोरी के आरोप में पुलिस वालोें ने 10 साल के लड़के को इतना मारा कि उसके कान के पर्दे फट गए। वह बोलता रहा कि मैं बेगुनाह हूं, फिर भी उसे नहीं छोड़ा। मोबाइल उसके दोस्त ने रखने के लिए दिया है। परिवार के लोग बचाने पहुंचे तो उन्हें भी भद्दी-भद्दी गाली दी और मारपीट कर भगा दिया। पीड़ित परिवार बेटे को लेकर आज एसपी की जनसुनवाई में गुहार लगाने जा रहा है।

10 वर्षीय भोला जिसके साथ पुलिस वालों ने बेरहमी दिखाई।

10 वर्षीय भोला जिसके साथ पुलिस वालों ने बेरहमी दिखाई।

जानकारी के अनुसार बेलखेड़ा निवासी बृजेश गौड़ (आदिवासी) का 10 वर्षीय बेटा भोला उर्फ लखन गौड़ छठवीं में पढ़ता है। सोमवार दोपहर दो बजे डायल-100 से बेलखेड़ा थाने के चार-पांच की संख्या में सिपाही पहुंचे। भोला को पकड़ लिया। फिर उसे बेरहमी से मारने-पीटने लगे।

चाचा के साथ भी मारपीट की
मासूम के चाचा भगवान दास बचाने पहुंचे तो उन्हें भी मारा। भगवानदास के मुताबिक भोला को पुलिस वाले उठा-उठा कर पटक रहे थे। उसे ताबड़तोड़ कई थप्पड़ जड़े। उसके कान से खून रिसने लगा, तब छोड़ा। पुलिस वालों ने भोला के पास से एक मोबाइल बरामद किया। पता चला कि पुलिस परिसर में रहने वाले एक कर्मी का उक्त मोबाइल चोरी हुआ था।

मासूम ने ये बताया
भोला के मुताबिक मोबाइल रखने के लिए उसके दोस्त राहुल ने दिए थे। राहुल की बड़ी बहन पुलिस आवास में खाना बनाती है। संभवत: उसी दौरान राहुल ने मोबाइल चुराया होगा। पुलिस ने सर्विलांस से ट्रेस किया तो वह भोला के पास मिला। बस इतनी से बात पर पुलिस वाले बेरहम बन और लात जूते से उसे पीट डाला।

भोला के कान से लगातार खून रिस रहा।

भोला के कान से लगातार खून रिस रहा।

डॉक्टर ने बोला कान के पर्दे फट गए
मासूम भोला को परिवार के लोगों ने स्थानीय डॉक्टर को दिखाया। चिकित्सक ने बताया कि उसके कान के पर्दे फट गए हैं। उसे जबलपुर रेफर किया गया है। मंगलवार को परिवार के लोग मासूम को लेकर पहले एसपी कार्यालय शिकायत करने जाएंगे। इसके बाद उसका इलाज कराएंगे। उधर, टीआई सुजीत श्रीवास्तव के मुताबिक उन्हें सिपाही का मोबाइल गुम होने की जानकारी मिली थी। मारपीट हुई है, तो परिवार के लोग बेहिचक शिकायत करें। कार्रवाई होगी

Print Friendly, PDF & Email

Corona

Corona

Translate »